जब नसों में जमने लगे बैड कोलेस्ट्रॉल, तो शरीर से मिलते हैं ऐसे अजीबोगरीब इशारे


High Cholesterol Symptoms: हमारी नसों में जमने वाले बैड कोलेस्ट्रॉल को कई गंभीर बीमारियों की जड़ कहा जाता है, इससे मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, हार्ट अटैक, ट्रिपल वेसल डिजीज और कोरोनरी आर्टरी डिजीज हो सकती है. ऐसे में सावधानियां बहुत जरूरी है. आमतौर पर बुरे लाइफस्टाइल और अनहेल्दी फूड हैबिट्स इसके लिए जिम्मेदार होते हैं. इसलिए जिंदगी में बदलाव लाना जरूरी है. आमतौर पर हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षण आसानी से पता नहीं चलते हैं, इसके लिए लिपिड प्रोफाइल टेस्ट (Lipid Profile Test) किया जाता है. हालांकि कई बार हमारा शरीर इसको लेकर इशारे भी देता है जिसे वक्त रहते पहचान लें तो अच्छा है.

नसों में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण

थकान (Fatigue)
आमतौर पर जब हमारे खून में गंदा कोलेस्ट्रॉल जम जाता है तो तो ब्लॉकेज की वजह से शरीर के कई हिस्सों में ब्लड फ्लो सही तरीके से नहीं हो पाता, खून और ऑक्सीजन की कमी से बदन दर्द और ऐंठन बढ़ जाती है, साथ ही मसल टेंशन का भी सामना करना पड़ता है.

सीने में दर्द (Chest Pain)
ब्लड वेसेल्स में बैड कोलेस्ट्रॉल (Bad Cholesterol) जमने के कारण के कारण सीने में दर्द होना आम बात है. अक्सर इसकी शुरुआत बेचैनी से होती है फिर चेट पेन बढ़ने लगता है. इसके लिए जरूरी है कि आप अपने डाइट से ऑयली चीजों को बाहर निकाल दें.

बेली फैट (Belly Fat)
अगर आपके पेट और कमर के आसपास चर्बी जमा होने लगे तो समझ जाएं कि कोलेस्ट्रॉल बढ़ चुका है, मेटाबॉलिजम स्लो होने पर वजन बढ़ने लगता है और आप कम फिजिकली एक्टिव हो जाते हैं.

हाई बीपी (High BP)
कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) बढ़ने से हमारी आर्टरीज में ब्लॉकेज हो जाता है, फिर खून को दिल तक पहुंचने में काफी जोर लगाना पड़ता है इसकी को ब्लड प्रेशर कहते हैं. हाई बीपी के कारण हार्ट अटैक (Heart Attack) आ सकता है.

बाथरूम की बाल्टी और मग हो गया गंदा, इन आसान तरीकों से करें साफ नए जैसा चमकने लगेंगे

Add a Comment

Your email address will not be published.