Guru Gochar 2022: गुरु गोचर का प्रभाव मेष से मीन तक, देखें किस राशि में गुरु देते हैं सबसे ज्यादा लाभ


गुरु ग्रह मीन राशि में जब गोचर करत हैं या धनु में होते है तो यह अपनी राशि में होने से बहुत ही शुभ फल देते हैं। अभी 23 नवंबर को गुरु मीन राशि में मार्गी हो जाएंगे। इससे इनके शुभ प्रभाव में और वृद्धि होगी। गुरु को ज्योतिषशास्त्र में शुभ ग्रह कहा गया है। लेकिन किसी व्यक्ति की कुंडली में गुरु किस राशि में है उसका भीअपना प्रभाव होता है। देखिए आपकी कुंडली में गुरु किस राशि में हैं और उसका आपके जीवन पर कैसा प्रभाव रहेगा।

मेष राशि पर गुरु का प्रभाव

मेष राशि में बृहस्पति के होने पर व्यक्ति को उसकी पसंद का लाइफ पार्टनर मिलता है। ऐसे लोगों की किस्‍मत में सुंदर, सुशील जीवन साथी तथा अच्छी संतान का होना तय है। वह समाज में सम्मान पाता है। वह भाग्यशाली सुविधापूर्ण जीवन वाला तथा जीवन भर लोगों के आकर्षण का केंद्र रहता है।

वृषभ राशि पर गुरु का प्रभाव

अगर आपकी कुंडली में वृषभ राशि में गुरु हैं तो फिर ऐसे लोगों के आय के कई स्रोत होते हैं और इन्हें धन की बचत करने में भी सफलता प्राप्‍त होती है। लेकिन ऐसे लोगों को अक्‍सर विरोधियों से कष्‍ट का सामना करना पड़ सकता है। इन लोगों को शारी‍रिक समस्‍याएं भी परेशान करती हैं और इसके साथ ही अक्‍सर पारिवारिक तनाव से घिरे रहते हैं।

मिथुन राशि पर गुरु का प्रभाव

अगर आपकी कुंडली में गुरु मिथुन राशि में हों तो ऐसे लोग बु़द्धिमान और चरित्रवान होते हैं। इनका मन धार्मिक गतिविधियों में लगा रहता है। इन्‍हें प्रभु भक्ति और पूजापाठ में बहुत आनंद आता है। ऐसे लोग अक्‍सर जीवनसाथी की वजह से दुख का सामना करते हैं।

कर्क राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन लोगों की कुंडली में कर्क राशि में गुरु होते हैं ऐसे लोगों को सरकारी कार्यों में बहुत लाभ होता है। ऐसे लोग अधिकारियों की पहली पसंद होते हैं। वह सरकार में मंत्री होते हैं या फिर उच्च पद के अधिकारी होते हैं तथा जीवन भर सुख सुविधाएं प्राप्‍त करते हैं।

सिंह राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन जातकों की कुंडली में सिंह राशि में गुरु होते हैं ऐसे लोगों को धन के साथ प्रसिद्धि और शौहरत भी प्राप्‍त होती है। वह शिक्षा के क्षेत्र में प्रसिद्धि पाता है। संतान से सुख, राज्य से सम्मान प्राप्‍त होता है और ऐसे लोगों का सभी लोग आदर करते हैं।

कन्‍या राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन जातकों की कुंडली में बृहस्पति कन्‍या राशि में होते हैं, ऐसे लोग हर प्रफेशन में अपने जीवन में सफलता प्राप्‍त करते हैं। चाहे नौकरी हो या फिर व्‍यापार इनको मनचाही सफलता और शौहरत प्राप्‍त होती है। परिवार तथा संतान से सुख तथा अधिकारी पद भी प्राप्‍त होता है। कई बार लोगों के अकारण विरोध का सामना करना पड़ता है तथा इसी कारण कभी-कभी अपयश भी हो सकता है।

तुला राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन जातकों की कुंडली में गुरु तुला राशि में होते हैं ऐसे लोग चंचल और अस्थिर दिमाग वाले होते हैं। ये किसी एक काम को मन लगाकर नहीं कर पाते हैं। इस वजह से इन्‍हें कार्यक्षेत्र के साथ-साथ अपने ही परिवार के लोगों से विरोध का सामना करना पड़ता है। यह योग जातकों को व्यवसाय में असफलता तथा संतान से असंतोष व दुख पाने वाला बनाता है।

वृश्चिक राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन लोगों की कुंडली में गुरु वृश्चिक राशि में होते हैं, ऐसे लोग मानसिक रूप से काफी योग्‍य होते हैं और इनका बौद्धिक स्‍तर काफी ऊंचा होता है। ऐसे लोगों के कई प्रकार की भू संपत्तियों के मालिक होते हैं। ऐसे लोगों का जीवन बहुत ही संपन्‍नता में कटता है और इन्‍हें हर प्रकार की सुविधाएं प्राप्‍त होती हैं।

धनु राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन भाग्‍यशाली लोगों की कुंडली में गुरु धनु राशि में होते हैं ऐसे लोग ईश्‍वर से डरने वाले होते हैं और असहाय लोगों की मदद करते हैं और जीवन में सभी प्रकार के कष्‍ट भोगकर आगे बढ़ते हैं। वह धार्मिक, चरित्रवान तथा प्राचीन ग्रंथों में रुचि रखने वाला होता है।

मकर राशि पर गुरु का प्रभाव

कुंडली में मकर राशि में गुरु का होना बहुत अच्‍छा नहीं माना जाता है। ऐसे लोगों को अपनों से ही दुख मिलता है। जीवन में विभिन्न प्रकार के विरोधों का सामना करना पड़ता है। इन जातकों को अपने जीवनकाल में कई गंभीर रोगों का सामना करना पड़ता है। यहां तक कि इन्‍हें अपने जीवन साथी और संतान से भी दुख ही मिलता है।

कुंभ राशि पर गुरु का प्रभाव

जिन लोगों की कुंडली में कुंभ राशि में गुरु की मौजूदगी होती है तो यह योग बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसे लोगों को शासन और सत्‍ता से भी पूरा सम्‍मान प्राप्‍त होता है। ऐसे लोग धनी, बुद्धिमान और जीवनसाथी और संतान से भरपूर सुख पाते हैं। ऐसे लोगों के जीवन में पैसों की कभी कमी नहीं रहती है और हमेशा खुले हाथ से खर्च करते हैं।

मीन राशि पर गुरु का प्रभाव

अगर कुंडली में मीन राशि पर गुरु का प्रभाव हो तो यह बहुत ही शुभ संयोग माना जाता है। कहा जाता है कि ऐसे लोग हमेशा जीवन साथी और संतान से सुख तो पाते ही हैं और तकनीकी रूप से भी काफी मजबूत होते हैं। ऐसे लोगों को गणमान्‍य लोगों और सरकार द्वारा अक्‍सर सम्‍मानित किया जाता है।



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.