RBI ने मुद्रा नोटों की पहचान करने के लिए नेत्रहीनों की सहायता के लिए ‘MANI’ ऐप लॉन्च किया

 

भारतीय रिजर्व बैंक ने has लॉन्च किया हैमणि‘मोबाइल ऐप नेत्रहीनों को मुद्रा नोटों के मूल्यवर्ग की पहचान करने में मदद करने के लिए।

यह आवेदन 1 जनवरी, 2020 को आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास और अन्य अधिकारियों द्वारा शुरू किया गया था।

RBI मोबाइल ऐप नेत्रहीन विकलांगों को एप्लिकेशन का उपयोग करके मुद्रा नोट के मूल्यवर्ग की पहचान करने में सक्षम करेगा। MANI ऐप इंस्टॉल होने के बाद ऑफलाइन भी काम करेगा।

MANI ऐप क्या है?

MANI मोबाइल एडेड नोट आइडेंटिफ़ायर के लिए एक परिचित है।

MANI ऐप कैसे डाउनलोड करें?

MANI ऐप को एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम वाले फोन में iPhones और Google Play Store के ऐप स्टोर में मुफ्त डाउनलोड के लिए उपलब्ध कराया गया है।

मणि ऐप डाउनलोड करने के चरण:

1। ऐप स्टोर या Google play store पर जाएं।

2। खोज विकल्प में ’MANI’ टाइप करें। आपको णि MANI ’या find mani’, मोबाइल एडेड नोट पहचानकर्ता एप्लिकेशन मिलेगा।

3। ‘Get’ पर क्लिक करें और ऐप डाउनलोड करें।

MANI ऐप का उपयोग कैसे करें?

एक बार जब उपयोगकर्ता MANI ऐप डाउनलोड कर लेते हैं, तो वे अपने मोबाइल कैमरे का उपयोग करके मुद्रा नोट को स्कैन कर सकते हैं और ऑडियो आउटपुट हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में नोट के मूल्य को प्रकट करेगा।

क्या MANI ऐप भी नकली नोटों की पहचान करेगा?

RBI ने स्पष्ट किया कि MANI मोबाइल ऐप किसी नोट को असली या नकली के रूप में प्रमाणित नहीं करेगा।

पृष्ठभूमि

भारतीय रिजर्व बैंक ने नवंबर 2016 में विमुद्रीकरण के बाद नवीनतम ‘महात्मा गांधी श्रृंखला’ के तहत नए मुद्रा नोटों का एक बैच जारी किया।

नए नोटों को अलग-अलग मूल्यवर्गों जैसे कि 2000 रुपये, 500 रुपये, 200 रुपये, 100 रुपये, 50 रुपये, 20 रुपये और 10 रुपये में लॉन्च किया गया, जिसमें रंग, डिज़ाइन और आकार में महत्वपूर्ण बदलाव किए गए।

यह बताया गया कि नेत्रहीनों को नए मुद्रा नोटों की पहचान करने में कई मुद्दों का सामना करना पड़ा। नए ऐप का उद्देश्य उनके लिए बाधाओं को दूर करना है।

 

Add a Comment

Your email address will not be published.