Yuvraj Singh Six Sixes to stuart broad after andrew flintoff sledging in t20 world cup 2007 | जब स्टुअर्ट ब्रॉड पर भारी पड़ी एंड्रयू फ्लिंटॉफ की एक गलती, गुस्साये युवराज सिंह ने ऐसे लिया था बदला


19 सितंबर 2007 को युवराज सिंह ने डरबन के मैदान पर इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में यह करनामन किया था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक ओवर में छह सिक्स लगाने के मामले में युवराज अफ्रीकी धुरंधर हर्शल गिब्स के बाद दूसरे बल्लेबाज बने थे और टी20 क्रिकेट में ऐसा करने वाले वे पहले बल्लेबाज थे।

क्या था पूरा मामला –
इस मैच में भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी कर रही थी। 17 ओवर के बाद भारत ने तीन विकेट के नुकसान पर 155 रन बना लिए थे। क्रीज़ पर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह खेल रहे थे। यह ओवर दिग्गज ऑलराउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ कर रहे थे। युवराज अभी-अभी क्रीज़ पर आए थे ऐसे में फ्लिंटॉफ ने उन्हें उकसाने के लिए कुछ कह दिया। ओवर खत्म होने पर फ्लिंटॉफ ने युवराज की तरफ भद्दे इशारे भी किए। जिसके बाद युवराज नज़र हो गए। इसके बाद 19वां ओवर स्टुअर्ट ब्रॉड लेकर आए और युवराज ने फ्लिंटॉफ का सारा गुस्सा उन पर उतार दिया।

पहली गेंद –
ब्रॉड ने पहली गेंद लेग स्टंप की लाइन में फेंकी। युवराज ने लेग साइड में रूम बनाया और गेंद के टप्पे पर बल्ले को सटा दिया। हाथों की पूरी ताकत उस शॉट में झोंक दी गयी थी और गेंद सीधा सीमा रेखा के पार छह रन के लिए चली गई।

दूसरी गेंद-
पहली और दूसरी गेंद के बीच में कुछ वक़्त लगा। पहली गेंद पर मारा गया शॉट गेंद को स्टेडियम के बाहर तक ले गया था। ब्रॉड ने इस बार छोटी लेंथ की गेंद डाली और युवराज के पैरों के पास फेंकी। युवी ने इसे फ्लिक कर दिया। कलाइयों का इससे ज़्यादा इस्तेमाल नहीं ही किया जा सकता था। गेंद सीधा हवा में चली गई और यह तह इस ओवर का दूसरा सिक्स। कैमरा सीधा फ़्लिंटॉफ़ की ओर गया। वे निराश थे।

तीसरी गेंद –
पहली गेंद की तरह ही दूसरी गेंद को वापस लाने में टाइम लग गया। युवराज बल्ले को गदा जैसा घुमा रहे थे। ब्रॉड ने यह गेंद ऑफ स्टंप के कुछ बाहर लोवर फ़ुलटॉस फेंकी। लेकिन युवराज सिंह के सर पर गुस्सा सवार था। इस बार यूवी ने गेंद को नीचे से उठाते हुए डीप कवर के ऊपर से सिक्स मार दिया।

चौथी गेंद –
ब्रॉड के चेहरे पर हताशा साफ़ दिख रही थी। स्टेडियम में शोर अपने चरम पर था। ब्रॉड फिर से दौड़ पड़े। इस बार राउंड द विकेट। लेंथ यॉर्कर रखने के चक्कर में और साथ ही पेस रखने के चक्कर में गेंद फुलटॉस हो गयी। ऑफ स्टम्प के बाहर जाते हुए युवराज ने इसे पॉइंट के ऊपर से सिक्स के लिए मार दिया। चौथा सिक्स लगते ही लोग खुशी से झूम उठे। अब दर्शक 6 सिक्स की उम्मीद करने लगे। वहीं ब्रॉड और फ्लिंटॉफ का चेहरा उतर गया।

पांचवीं गेंद-
पॉल कॉलिंगवुड कप्तान होने के नाते ब्रॉड से कुछ कहते हैं। ब्रॉड फिर से ओवर द विकेट गेंद फेंकने को आते हैं। यह गेंद गुड लेंथ के आस-पास फेंकते हैं। लेकिन युवराज घुटने पर बैठ कर इसे हवा में खेल देते हैं। गेंद मिस-टाइम हो गयी और बल्ले पर सही से नहीं आई। इसके बावजूद गेंद सीमा रेखा को पार कर गई। 5 गेंद 5 सिक्स, यह टी20 क्रिकेट के इतिहास में कभी नहीं हुआ था।

छठी गेंद –
ब्रॉड मुस्कुरा रहे थे। युवराज ने पांचवां सिक्स मैस्केरेंह्स के सर के ऊपर से मारा था। वही मैस्केरेंह्स जिसने युवराज को ओवल में पांच छक्के मारे थे। युवराज ने एक कदम आगे रहने का मन बनाया हुआ था। ब्रॉड की लम्बी गेंद। पहली गेंद से कुछ छोटी पर फिर भी बल्ले की रेंज में। वाइड मिड ऑन के ऊपर से युवराज ने सिक्स लगा दिया। सिर्फ12 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा कर लिया।

युवी ने कुल 16 गेंदों में 58 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 7 सिक्स और 3 चौके मारे। युवी की पारी के दम पर ही भारत ने उस मैच में 218/4 रनों का स्कोर बनाया और इंग्लैंड को 18 रनों से मात दी थी। फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को हराकर खिताब अपने नाम किया था।



Add a Comment

Your email address will not be published.